Skip to main content

Hindi romantic shayari, latest romantic shayari

  Hindi romantic shayari 1. मुझे फ़िज़ूल में गालियां बक रहे हो तुम मैने उसका दिल नहीं तोड़ा, वो खुद चली है मुझे छोड़ कर मैने उसे नहीं छोड़ा muze fizul me gaaliya bak rahe ho tum mene uska dil nahi toda, vo khud chali he muze chhodkar mene use nahi chhoda 2. सुना था कि सिशा बेवफाओं को देखकर टूट जाता है, वो सामने थी मैने इसे नहीं तोड़ा sunaa tha ki shisha bewfaao ko dekhkar tut jaata  he, vo saamne thi mene ishe nahi toda 3. मुझसे नाराज़ हो तो आशु बहालो,और लगाना ही है तो गले लगालो ,और ये व्हाट्स इंस्टा की बाते मुझे सामजमे नहीं आती बात ही करनी है तो फोन लगालो muzse naaraz ho to aashu bahaalo,aur lagaana hi he to gale lagaalo,aur ye WhatsApp insta ki baate muze samzme nahi aati baat hi karni he to phon lagaalo 4. रख अपने दिल पर हाथ और पूछ अपने खुदा से तुझे मुझसे ज्यादा कोई चाह सकता है,और में जानता हूं कि तू किस्मत बुरी है,पर एशी बुरी किस्मत अपने लिए कोई मांग सकता हैं rakh apne dil par hath aur puchh apne khuda se tuze muzse jyadaa koi chah skta he,aur me janta hu ki tu kismat buri he,par e

Latest hindi love shayari, best love shayari


Hindi love shayari


                                      1.

 

मेरे साथ तुम रहोगी तो सारी बलाए तल जाएगी

तुझे छूना तो चाहता हूं लेकिन दर है कि उंगलियां जल जाएगी


mere satg tum rahogi to saari balaaaye tal jaayegi tuze chhuna to chahta hu lekin dar he ki ungliya jal jaayegi tuze chhuna to chahta hu lekin dar he ki ungliya jal jayegi



                                        2.


आसमान में आज ये कैसा धुआ है, शायद किसी ने ठंडे हाथ से उसके बदन को छुआ है, और मैने गौर किया है तेरे घरके फूल मुरझा गए है, मुझे डर है कि तेरी तबीयत को कुछ हुआ है।



aasmaan me aaj ye kesha dhua he, shayad kishi ne dande haath se uske badn ko chhua he, aur mene gaur kiya he tere gharke ful murza gaye he, muze dar he ki teri tabiyat ko kuchh hua he



                                            3.


अपने हाथो से अपनी मैय्यत साझा की हमने, इस्क करने की साझा पा ली हमने, और मा बाप सही कहेटे थे दूर रही उससे करीब रहेकर कोंसी वफा पाली हमने।


apane hatho se apni maiyyt sazaa ki hamane, isqa karne ki sazaa paa li hamne , aur ma bap sahi kahete the dur rahi usase karib rahekar konsi wafaa paali hamne 



                                       4.


सोना और बाबू के दोर में आजी सुनो कहेने वाली चाहिए

और में नए दौर का पुराना लड़का हूं मुझे आज भी चाहैरा छुपाने वाली चाहिए


sona aur babu ke dor me aaji suno kahene vaali chahiye aur me nayr duar ka puraana ladka hu muze aaj bhi chahera chhupane vali chahiye



                                       5.


ये शहर मध होस क्यों हुआ जारहा है ये हवाओं में रंगत क्यों बिखरी हुई है, ये खेल नहीं है मौसम का जनाब बाल खोल कर घर से निकली है


ye shahar madhhosh kyo hua jaa raha he ye havao me rangat kyo bikhari hui he, ye khel nahi he mausam ka janaab baal khol kar ghar se nikali he



                                            6.


ये क्या हुआ कि हमारा दिल हमारा नहीं लगता एक आपके चहेरे से सुंदर कोई नज़ारा नहीं लगता, और उस चांद को था गूरुर खुद पर हमने आपकी तस्वीर दिखादी अब वो खुद को प्यारा नहीं लगता


ye kya hua ki hamara dil hamara nahi lagtaa ek aapke chahere se sundar koi nazaara nahi lagtaa, aur us chand ko tha gurur khud par hamne aapki tasweer dikhadi ab vo khud ko pyara nahi lagta 



                                          7.


ये कोंन है इतना खूबसूरत ये नज़ारा केसा है, महेताज ज़हन में सोच रहा है, मेतो फलक पर हूं ये ज़मीं पर उजाला केसा है


ye kon he itna khubsurat ye nazara kesha he, mahetaz jahan me soch raha he, meto falak par hu ye jami par ujala kesha he




                                            8.


मैने दो शेर क्या लिख दिए कि आयना मग्रुर हो गया और कल शाम देखा था उसने तुम्हे खुदा कसम सुभा तक चकना चुर हो गया


mene do sher kya likh diye ki aayana magrur ho gaya aur kal sham dekha tha usne tumhe khuda kasham subha tak chakana chur ho gaya 



                                           9.


एक कमाल का नजारा में आज देख रहा था, एक महेताज जमिसे महेताज देख रहा था 


ek kamaal ka nazaara me aaj dekh raha tha, ek mahetaz jamise mahetax dekh raha tha



                                          10.


मेरे हर दर्द की सफा बन गए हो तुम, मेरे ज़ख्मों की दवा बं गए हो तुम, और दिखाई तो नहीं देते हो लेकिन हर वक़्त महेसुस होते हो सच कहेता हूं हवा बं गए हो तुम


mere har dard ki safaa ban gaye ho tum, mere zakhmo ki dava ban gaye ho tum, aur dikhai to nahi dete ho lekin har waqt mahesus hote ho sach kaheta hu hava ban gaye ho tum

Comments

Popular posts from this blog

Latest Dosti shayari, friendship shayari, dosti shayari image

  Latest Dosti shayari, friendship shayari, dosti shayari image 1.rista Pyar karne valo ki kismat buri hoti  he har Milan judai se hoti he risto  ko bhi kabhi parakh Kar dekhna  dosti har riste se badi hoti he  प्यार करने वालों की किस्मत बहुत बुरी होती है, और  हर  मिलन जुदाई से होता है, रिस्तो को कभी परख  कर देख लेना दोस्ती हर रिश्ते से बड़ी होती है! 2.Dard Dard ko dard se na dekho  Dard ko bhi dard hota he  Dard ko jarurat he dost ki  Aakhir dost hi dard me hamdard hota he  दर्द को दर्द से ना देखो  दर्द को भी दर्द होता है  दर्द को जरूरत है दोस्त की  आखिर दोस्त ही दर्द में हमदर्द होता है  3.Vafa Gunah karke sajaa se darte he  Zahar pi ke davaa se darte he  Dusmno ke sitam ka khouf nahi Ham to dosto ki vafa se darte he  गुनाह करके सज़ा से डरते हैं  जहर पी के दवा से डरते हैं  दुश्मनों के सितम का खौफ नहीं  हम तो दोस्तों की वफ़ा से डरते हैं 4.khun ka rista Kyu muskilo me sath dete he dost  Kyu gam ko baat lete he dost  Na rista khun ka ka rivaaj se bandha  Fir bhi jindgi bhar sath dete he d

Hindi romantic shayari, latest romantic shayari

  Hindi romantic shayari 1. मुझे फ़िज़ूल में गालियां बक रहे हो तुम मैने उसका दिल नहीं तोड़ा, वो खुद चली है मुझे छोड़ कर मैने उसे नहीं छोड़ा muze fizul me gaaliya bak rahe ho tum mene uska dil nahi toda, vo khud chali he muze chhodkar mene use nahi chhoda 2. सुना था कि सिशा बेवफाओं को देखकर टूट जाता है, वो सामने थी मैने इसे नहीं तोड़ा sunaa tha ki shisha bewfaao ko dekhkar tut jaata  he, vo saamne thi mene ishe nahi toda 3. मुझसे नाराज़ हो तो आशु बहालो,और लगाना ही है तो गले लगालो ,और ये व्हाट्स इंस्टा की बाते मुझे सामजमे नहीं आती बात ही करनी है तो फोन लगालो muzse naaraz ho to aashu bahaalo,aur lagaana hi he to gale lagaalo,aur ye WhatsApp insta ki baate muze samzme nahi aati baat hi karni he to phon lagaalo 4. रख अपने दिल पर हाथ और पूछ अपने खुदा से तुझे मुझसे ज्यादा कोई चाह सकता है,और में जानता हूं कि तू किस्मत बुरी है,पर एशी बुरी किस्मत अपने लिए कोई मांग सकता हैं rakh apne dil par hath aur puchh apne khuda se tuze muzse jyadaa koi chah skta he,aur me janta hu ki tu kismat buri he,par e

Hindi attitude shayari , new attitude shayari

  attitude shayari:-                             1.      Ye to ham he jo apna pyar nibha  rahe he jis din chodkar chale  jayenge aukaat pata chal jayegi ये तो हम है कि जो अपना प्यार निभा रहे है, जिस दिन छोड़कर चले जायेंगे‪ औकात   पता चल जाएगी तुझे खुद की                            2. Andaz kuch alag he mera  sab ki attitude ka shouk he  muze attitude todne ka  अंदाज़ कुछ अलग है मेरा सब को  ATTITUDE का शौक है,  मुझे ATTITUDE तोडने का                        3. Ham bhi navab he logo ki akad Dhue ki tarah udakar aukat sigaret Ki tarah choti kar dete he  हम भी नवाब है लोगों  की अकड़  धूएँ  की तरह उड़ाकर, औकात सिगरेट   की तरह छोटी  कर देते है ।                      4. Pareshan na hua karo logo  ki baato se kuch log peda  hi bakvas karne ke liye hote he  परेशान ना हुआ करो लोगों की  बातों से कुछ लोग पैदा ही बकवास  करने के लिए हुए होते हैं।                         5. Rahe badle ya badle waqt ham to  apni manzil payenge jo samzate he  khud ko badshah bhi ek din use apne  darbar me jarur nachayeng