Skip to main content

Hindi romantic shayari, latest romantic shayari

  Hindi romantic shayari 1. मुझे फ़िज़ूल में गालियां बक रहे हो तुम मैने उसका दिल नहीं तोड़ा, वो खुद चली है मुझे छोड़ कर मैने उसे नहीं छोड़ा muze fizul me gaaliya bak rahe ho tum mene uska dil nahi toda, vo khud chali he muze chhodkar mene use nahi chhoda 2. सुना था कि सिशा बेवफाओं को देखकर टूट जाता है, वो सामने थी मैने इसे नहीं तोड़ा sunaa tha ki shisha bewfaao ko dekhkar tut jaata  he, vo saamne thi mene ishe nahi toda 3. मुझसे नाराज़ हो तो आशु बहालो,और लगाना ही है तो गले लगालो ,और ये व्हाट्स इंस्टा की बाते मुझे सामजमे नहीं आती बात ही करनी है तो फोन लगालो muzse naaraz ho to aashu bahaalo,aur lagaana hi he to gale lagaalo,aur ye WhatsApp insta ki baate muze samzme nahi aati baat hi karni he to phon lagaalo 4. रख अपने दिल पर हाथ और पूछ अपने खुदा से तुझे मुझसे ज्यादा कोई चाह सकता है,और में जानता हूं कि तू किस्मत बुरी है,पर एशी बुरी किस्मत अपने लिए कोई मांग सकता हैं rakh apne dil par hath aur puchh apne khuda se tuze muzse jyadaa koi chah skta he,aur me janta hu ki tu kismat buri he,par e

Hindi attitude shayari , new attitude shayari

 attitude shayari:-


                            1.

    

Ye to ham he jo apna pyar nibha 

rahe he jis din chodkar chale 

jayenge aukaat pata chal jayegi


ये तो हम है कि जो अपना प्यार निभा रहे है,

जिस दिन छोड़कर चले जायेंगे‪ औकात  

पता चल जाएगी तुझे खुद की 


                          2.



Andaz kuch alag he mera 

sab ki attitude ka shouk he 

muze attitude todne ka 


अंदाज़ कुछ अलग है मेरा सब को

 ATTITUDE का शौक है,

 मुझे ATTITUDE तोडने का


                       3.



Ham bhi navab he logo ki akad

Dhue ki tarah udakar aukat sigaret

Ki tarah choti kar dete he 


हम भी नवाब है लोगों  की अकड़ 

धूएँ  की तरह उड़ाकर, औकात सिगरेट  

की तरह छोटी  कर देते है ।


                     4.



Pareshan na hua karo logo 

ki baato se kuch log peda 

hi bakvas karne ke liye hote he 


परेशान ना हुआ करो लोगों की 

बातों से कुछ लोग पैदा ही बकवास 

करने के लिए हुए होते हैं।


                        5.


Rahe badle ya badle waqt ham to 

apni manzil payenge jo samzate he

 khud ko badshah bhi ek din use apne 

darbar me jarur nachayenge 


राहें बदले या बदलेवक्त, हम तो

 अपनी मँजिल पायेंगे,जो समझते है

 खुद को बादशाह,  एकदिन उसे

 अपनेदरबार  में जरूरनचायेगे।


                           6.


Bheed ikatthi karke to kisi ko 

Bhi harana aashan he lekin mazaa tab 

he Jab aapka naam sunte hi bheed 

me bhagdad mach jaye 


भीड इकट्ठी करके तो किसी को

 भी हराना बहुत आसान है लेकिन मजा तब है 

जब सिर्फ आपका नाम सुनते ही भीड में भी भगदड मच जाए


                             7.


Kisi ko nicha dikhana meri fitrat mein 

nahi, Aur koi mujhe nicha dikhakar bach

jaye, ye uski kismat mein nahi.


किसी को नीचा दिखाना मेरी फितरत में नहीं 

और कोई मुझे नीचा दिखाकर बच जाए 

ये उसकी किस्मत में नहीं 


                            8.


Shaan she jine ka shouk he vo to 

Ham jiyenge bas tu apne aap ko 

Shambhal ham to unhi chamkate rahenge 


शान‬ से ‪जीने‬ का ‪‎शौंक है , वो तो 

हम ‪‎जियेंगे बस ‪तूँ ‬अपने ‪आप‬ को

 ‪‎संभाल‬ हम तो ‪यूहीँ ‬‪चमकते‬ रहेंगे


                           9.


Resh vo lagate he jise 

Apni kismat aazmani ho 

Ham to vo khiladi he jo apni 

Kismat ke shath khelte he 


रेस वो लोग लगाते है जिसे 

अपनी किस्मत आजमानी हो

हम तो वो खिलाडी है जो अपनी

 किस्मत के साथ खेलते है


10.

 

माना में तुझसे बहोट सिकायते करती हूं माना में तुझसे छोटी बात पर लड़ती हूं माना में तेरे सामने हमेशा अकड़ती हूं माना में तुझसे बिल्कुल नहीं डरती पर एक बात बताना कों तुझसे यू प्यार करेगा जैसे में करती हूं


maana me tuze bahot sikaayte karti hu mana me tuzse chhoti baat par ladti hu maana me tere saamne hamesha akdti hu mana me tuzse bilkul nahi darti par ek baat bataana ki tuzse yu payar karega jese me karti hu



11.


तुम्हारी हवा की खिड़की की क्या औकात मेरे सामने में गुरुरी में जन्नत का दरवाजा मरोड़ देता हूं, और तुम्हारी औकात नहीं शहंशाहों से लडने की जाओ बच्चा समजके छोड़ दिया तुम्हे


tumhari hava ki khidki ki kya aukat mere saamne me guzari me jannt ka darvaja marod deta hu, aur tumhari aukaat nahi shahenshaho se ladne ki, jaao bacha samzke chhod diya tumhe



                                        12.


इतना लहू नहीं दौड़ता तुम्हारी रगों में जितना में एक जाम में रस लेता हूं, और जितना तुम खड़े खड़े हाफ कर थक जाते हो  उतनी सांस तो में अपने एक कछ में लेता हूं


itna lahu nahi dodta tumhari rago me jitna me ek jaam me rash leta hu, aur jitna tum khade khade haaf kar thak jaate ho utni shas to me apne ek kachh me le leta hu



                                        13.


बस इसी दर से सूरज नहीं तक ता में कहीं मेरी नजर से पिघल ना जाए, और तुम्हारी तस्वीर बत्वे से निकाल के फेक दी मैने, तुम्हे इतना ताकता कहीं तू बाहर ना निकल जाए


bas ishi dar se suraj nahi tak ta me kahi meri nazar se pighal naa jaaye, aur tumhari tasveer batve se nikaalkar fek di mene, tumhe itna taakta kahi tu baahar na nikal jaaye



Comments

Popular posts from this blog

Latest Dosti shayari, friendship shayari, dosti shayari image

  Latest Dosti shayari, friendship shayari, dosti shayari image 1.rista Pyar karne valo ki kismat buri hoti  he har Milan judai se hoti he risto  ko bhi kabhi parakh Kar dekhna  dosti har riste se badi hoti he  प्यार करने वालों की किस्मत बहुत बुरी होती है, और  हर  मिलन जुदाई से होता है, रिस्तो को कभी परख  कर देख लेना दोस्ती हर रिश्ते से बड़ी होती है! 2.Dard Dard ko dard se na dekho  Dard ko bhi dard hota he  Dard ko jarurat he dost ki  Aakhir dost hi dard me hamdard hota he  दर्द को दर्द से ना देखो  दर्द को भी दर्द होता है  दर्द को जरूरत है दोस्त की  आखिर दोस्त ही दर्द में हमदर्द होता है  3.Vafa Gunah karke sajaa se darte he  Zahar pi ke davaa se darte he  Dusmno ke sitam ka khouf nahi Ham to dosto ki vafa se darte he  गुनाह करके सज़ा से डरते हैं  जहर पी के दवा से डरते हैं  दुश्मनों के सितम का खौफ नहीं  हम तो दोस्तों की वफ़ा से डरते हैं 4.khun ka rista Kyu muskilo me sath dete he dost  Kyu gam ko baat lete he dost  Na rista khun ka ka rivaaj se bandha  Fir bhi jindgi bhar sath dete he d

Hindi romantic shayari, latest romantic shayari

  Hindi romantic shayari 1. मुझे फ़िज़ूल में गालियां बक रहे हो तुम मैने उसका दिल नहीं तोड़ा, वो खुद चली है मुझे छोड़ कर मैने उसे नहीं छोड़ा muze fizul me gaaliya bak rahe ho tum mene uska dil nahi toda, vo khud chali he muze chhodkar mene use nahi chhoda 2. सुना था कि सिशा बेवफाओं को देखकर टूट जाता है, वो सामने थी मैने इसे नहीं तोड़ा sunaa tha ki shisha bewfaao ko dekhkar tut jaata  he, vo saamne thi mene ishe nahi toda 3. मुझसे नाराज़ हो तो आशु बहालो,और लगाना ही है तो गले लगालो ,और ये व्हाट्स इंस्टा की बाते मुझे सामजमे नहीं आती बात ही करनी है तो फोन लगालो muzse naaraz ho to aashu bahaalo,aur lagaana hi he to gale lagaalo,aur ye WhatsApp insta ki baate muze samzme nahi aati baat hi karni he to phon lagaalo 4. रख अपने दिल पर हाथ और पूछ अपने खुदा से तुझे मुझसे ज्यादा कोई चाह सकता है,और में जानता हूं कि तू किस्मत बुरी है,पर एशी बुरी किस्मत अपने लिए कोई मांग सकता हैं rakh apne dil par hath aur puchh apne khuda se tuze muzse jyadaa koi chah skta he,aur me janta hu ki tu kismat buri he,par e