Skip to main content

Posts

Showing posts from September, 2020

Hindi romantic shayari, latest romantic shayari

  Hindi romantic shayari 1. मुझे फ़िज़ूल में गालियां बक रहे हो तुम मैने उसका दिल नहीं तोड़ा, वो खुद चली है मुझे छोड़ कर मैने उसे नहीं छोड़ा muze fizul me gaaliya bak rahe ho tum mene uska dil nahi toda, vo khud chali he muze chhodkar mene use nahi chhoda 2. सुना था कि सिशा बेवफाओं को देखकर टूट जाता है, वो सामने थी मैने इसे नहीं तोड़ा sunaa tha ki shisha bewfaao ko dekhkar tut jaata  he, vo saamne thi mene ishe nahi toda 3. मुझसे नाराज़ हो तो आशु बहालो,और लगाना ही है तो गले लगालो ,और ये व्हाट्स इंस्टा की बाते मुझे सामजमे नहीं आती बात ही करनी है तो फोन लगालो muzse naaraz ho to aashu bahaalo,aur lagaana hi he to gale lagaalo,aur ye WhatsApp insta ki baate muze samzme nahi aati baat hi karni he to phon lagaalo 4. रख अपने दिल पर हाथ और पूछ अपने खुदा से तुझे मुझसे ज्यादा कोई चाह सकता है,और में जानता हूं कि तू किस्मत बुरी है,पर एशी बुरी किस्मत अपने लिए कोई मांग सकता हैं rakh apne dil par hath aur puchh apne khuda se tuze muzse jyadaa koi chah skta he,aur me janta hu ki tu kismat buri he,par e

Latest Dosti shayari, friendship shayari, dosti shayari image

  Latest Dosti shayari, friendship shayari, dosti shayari image 1.rista Pyar karne valo ki kismat buri hoti  he har Milan judai se hoti he risto  ko bhi kabhi parakh Kar dekhna  dosti har riste se badi hoti he  प्यार करने वालों की किस्मत बहुत बुरी होती है, और  हर  मिलन जुदाई से होता है, रिस्तो को कभी परख  कर देख लेना दोस्ती हर रिश्ते से बड़ी होती है! 2.Dard Dard ko dard se na dekho  Dard ko bhi dard hota he  Dard ko jarurat he dost ki  Aakhir dost hi dard me hamdard hota he  दर्द को दर्द से ना देखो  दर्द को भी दर्द होता है  दर्द को जरूरत है दोस्त की  आखिर दोस्त ही दर्द में हमदर्द होता है  3.Vafa Gunah karke sajaa se darte he  Zahar pi ke davaa se darte he  Dusmno ke sitam ka khouf nahi Ham to dosto ki vafa se darte he  गुनाह करके सज़ा से डरते हैं  जहर पी के दवा से डरते हैं  दुश्मनों के सितम का खौफ नहीं  हम तो दोस्तों की वफ़ा से डरते हैं 4.khun ka rista Kyu muskilo me sath dete he dost  Kyu gam ko baat lete he dost  Na rista khun ka ka rivaaj se bandha  Fir bhi jindgi bhar sath dete he d

Latest love shayari, hindi love shayari

  Latest love shayari, hindi love shayari                    1.Naraaz Mere chup rahne se naraaz na  hua kar Kahte he tute hue log  hamesha khamosh hua karte he  मेरे चुप रहने से नाराज़ ना हुआ करो... कहते है कि टूटे हुए लोग हंमेशा ख़ामोश रहा करते है                        2.matalbi Bhula denge tumko jaraa sabr to kijiye  Aapki tarh matlabi banane me thoda  Waqt lagega hame  भुला देंगे तुमको ज़रा सब्र तो कीजिये , आपकी तरह मतलबी बनने में थोड़ा  वक़्त तो लगेगा हमें।                      3.Dil Vafa ka dariya kabhi rukta nahi  Ishq me premi kabhi zukta nahi  Khamosh he ham kisi ke khushi ke liye  Na socho ke hamara dil dukhata nahi  वफ़ा का दरिया कभी रुकता नही,  इश्क़ में प्रेमी कभी झुकता नही, खामोश हैं हम किसी के खुशी के लिए, ना सोचो के हमारा दिल दुःखता नहीं!                    4.Naaz Har dil ka ek raaz hota he  Har baat ka ek andaj hota he  Jab tak na lage bewafai ki thokar  Har kisi ko apni pasnd par naaz hota he  हर दिल का एक राज़ होता है,  हर बात का एक अंदाज़ होता है ..  जब तक ना लगे बेवफ़

Hindi dard shayari, new dard shayari, sad shayari

  Hindi dard shayari                           1. हम हारे है तो क्या हुआ ज़माने से, कुछ पानी ही तो छलका है पैमाने से खुद से जीत जाए बस एक ख्वाब बाकी है मद होस करने लायक सराब उनके लबो पर  ही काफी है, ham hare he to kya hua zamane se  kuch pani hi ti chalaka he pemane se khud se jit jaaye bas ek khvab baaki he madhis karne layak sarab unke labo par hi kafi he                            2. शायद पुराना कोई ज़खम भर गया है आपके आशु क्यों नहीं रुक रहे क्या आखो में आपकी गगन भर गया है । shayad purana koi zakhm bhar gaya he  aapke aashu kyo nahi ruk rahe kya aakho me aapki gagan bhar gaya he                            3. उसके जैसी मुझे अपनी जुबानी करनी पड़ी  कर तो सकता था बाते इधर उधर की बहोट मगर कुछ लोगो में बाते मुझे खानदानी करनी पड़ी अपनी आंखो से देखा था मंज़र बेवफ़ाई का सुना तो फ़िज़ूल हैरानी करनी पड़ी। uske jesi muze apni jubani karni padi  kar to sakhta tha baate idhar udhar ki bahot  magar kuch logo me baate muze khandani karni padi apni aakho se dekha. tha manzar bewfaika suna to fizul h

Hindi attitude shayari , new attitude shayari

  attitude shayari:-                             1.      Ye to ham he jo apna pyar nibha  rahe he jis din chodkar chale  jayenge aukaat pata chal jayegi ये तो हम है कि जो अपना प्यार निभा रहे है, जिस दिन छोड़कर चले जायेंगे‪ औकात   पता चल जाएगी तुझे खुद की                            2. Andaz kuch alag he mera  sab ki attitude ka shouk he  muze attitude todne ka  अंदाज़ कुछ अलग है मेरा सब को  ATTITUDE का शौक है,  मुझे ATTITUDE तोडने का                        3. Ham bhi navab he logo ki akad Dhue ki tarah udakar aukat sigaret Ki tarah choti kar dete he  हम भी नवाब है लोगों  की अकड़  धूएँ  की तरह उड़ाकर, औकात सिगरेट   की तरह छोटी  कर देते है ।                      4. Pareshan na hua karo logo  ki baato se kuch log peda  hi bakvas karne ke liye hote he  परेशान ना हुआ करो लोगों की  बातों से कुछ लोग पैदा ही बकवास  करने के लिए हुए होते हैं।                         5. Rahe badle ya badle waqt ham to  apni manzil payenge jo samzate he  khud ko badshah bhi ek din use apne  darbar me jarur nachayeng