Saturday, December 7, 2019

new Best romantic shayari / new romentic shayari photo

1. Kab tak 
Hindi romantic shayari / English romentic shayari/ shayari photo/ shayari image

Kab tak vo mera hone se inkaar karega 
Khud tut kar vo ek din to muzse pyar karega 
Ishq ki aag me ushko itna jala deneg
Ki ijahar vo mizse sar-e bazar karega

कब तक वो मेरा होने से इंकार करेगा, 
 खुद वो टूट कर वो एक दिन मुझसे प्यार करेगा, 
 इश्क़ की आग में उसको इतना जला देंगे, 
 कि इज़हार वो मुझसे सर-ए-बाजार करेगा। 

2.Nigahe
Hindi romantic shayari / English romentic shayari/ shayari photo/ shayari image

Tumhari pyar bhari nigaho ko hame
 kush esha guman hota he 
Dekho na muze is kadar madhosh 
nazaro se ki dil beiman hota he 

तुम्हारी प्यार भरी निगाहों को हमें कुछ ऐसा 
गुमान होता है, देखो ना मुझे  इस कदर मदहोश
 नज़रों से कि दिल बेईमान होता है।

3. Ashiyana
Hindi romantic shayari / English romentic shayari / shayari photo / shayari image

Tu chand me sitara hota 
Asaman ke ek ashiyana me 
Ek ashiyana hamara hota 
Log tumhe dur se dekhte 
Najdeek se dekhne ka hak bas hamara hota 

तू चाँद मे सितारा होता
 आसमान के एक आशियाना में
 एक आशियाना हमारा होता
 लोग तुम्हे दूर से देखते
 नज़दीक से देखने का तो हक़ सिर्फ हमारा होता . 

4. Sart
Hindi romantic shayari / English romentic shayari / shayari photo / shayari image

Unki yaad me sab kush bhulaye bethe he 
Chirag khushiyon ke buzaye Bethe he 
Ham to marenge unki baho me 
Ye maut se sart lagaye bethe he 

उनकी याद मे सब कुछ भुलाए बैठे हे
 चिराग खुशियों के बुझाए बैठे हे
 हम तो मरेंगे उनकी बाहो मे
 ये मौत से शर्त लगाए बैठे हे 
5.jaadu
Hindi romantic shayari / English romentic shayari / shayari photo / shayari image

Jaadu hain uski har ek baat mein,
 Yaad bahut aati hai din or raat me,
 Kal jab dekha tha mene sapna raat me,
 Tb bhi usika hi haath tha mere hath me,

जादू है उसकी हर एक बात में 
याद बहुत आती है दिन और रात में 
कल जब देखा था मैने सपना रात में 
तब भी उसका ही हाथ था मेरे हाथ में

6.

Vo dard kya jo akho se bah jaaye 
Vo khushi hi kya jo hotho par rah jaaye
Kabhi to samzo meri khamoshi ko
Vo baat hi kya jo labz ashani se kah jaaye

वो दर्द ही क्या जो मेरे आँखों से बह जाए!
वो खुशी ही क्या जो मेरे होठों पर रह जाए!
कभी तो समझो मेरी खामोशी को!
वो बात  क्या जो लफ्ज़ आसानी से कह जायें!

7.

Tum bin guzar to jayegi zindigi
per main jee na paaoonga tum bin
hazaroon sitaron ki bheer main bhi dekho
yeh chaand kitna tanha hai tum bin?

तुम बिन गुजर तो जाएगी ज़िंदगी
पर मै जी ना पाऊंगा तुम बिन 
हजारों सितारों की भीड़ में भी देखो
ये चांद कितना तन्हा है तुम बिन
8.

Koi chand se mahobbat karta he to koi suraj se mahobbat karta he hum unse mahobbat
 karte he jo hum se mahobbat karte hai

कोई चांद से महोबत करता है कोई सूरज से 
महोबत करता है हम उनसे महोबत करते है 
जो हम से महोबत करता है 

9.

Sirf isharoon mein hoti mohabbat agar,
in alfazoon ko khoobsurati kaun deta?
Bas pathar bann ke reh jaata ?Taj mahal?,
agar ishq isse apni pehchan na deta?

सिर्फ इशारों में होती है महोबत अगर इन
अल्फाजो को खूबसूरती कोन देता?, बस
पत्थर बन के रह जाता?, ताज महल
अगर इश्क़ इशे अपनी पहेचान ना देता ?

10.

Ishq aisa karo ki dhadkan me bas jaaye,
saans bhi lo to khushbu usi ki aaye,
pyaar ka nasha aankhon pe chaa jaaye,
baat kuch bhi na ho par naam to usi ka hi aaye?

इश्क़ ऐसा करो कि धड़कन में बस जाए
सांस भी लो तो खुस्बू उसी की आए
प्यार का नशा आंखो पे छा जाए
बात कुछ भी ना हो पर नाम तो उसी ही  का आए 

No comments:

Post a Comment